Thursday, 28 December 2017

फासला घट आयगा, हमदम बनाओ

 फासला घट  आयगा, हमदम  बनाओ,
 हो सके तो तुम किसी का गम मिटाओ l 
शान्ति, सुख पा  जावगे यह देखना तुम,
बस किसी  के  घाव पर मरहम लगाओ l

- डॉ हरिमोहन गुप्त 
सुख उसको ही मिल सका, रहा कामना मुक्त, वही सम्पदा श्रेष्ठ है, वैभव से हो युक्त. मिथ्या भाषण, कटु वचन, करे तीर का काम, स्वाभाविक यह प्रतिक्रिया, उल्टा हो परिणाम.