Thursday, 26 April 2018

श्री राम


   इष्ट सभी के एक है, विविध उन्हीं के नाम,
 लेकिन मुझको प्रिय लगा,दशरथ नन्दन राम