Friday, 20 April 2018

सिया राम मय जगत है,जन जन का आधार

सिया राम मय जगत है,जन जन का आधार,
 मिथ्या सब संसार है, प्राणी यह है सार l
 सिया राम मय जगत है,जन जन का आधार,
 मिथ्या सब संसार है, प्राणी यह है सार l